Tuesday, June 9, 2009

कार्टून : देखिए जेल का खेल !


9 comments:

सौमित्र रॉय said...

बहुत बढ़िया है, लेकिन शार्पनेस की थोड़ी कमी है। मौजूदा समय में कार्टूनिस्‍ट की छुरी सर्जिकल ब्‍लेड की तरह तेज होनी चाहिए, ताकि काटो तो खून न निकले।

CARTOON TIMES by-manoj sharma Cartoonist said...

KYA KAHNA
BAS ITNA KAHNA KAFFI THA-
" OUR KUCH LAAUUN SIR"

Shayad Soumitra Rai yahee kahna chahte honge

संजय बेंगाणी said...

और क्या लेंगे सा'ब?

काजल कुमार Kajal Kumar said...

बहुत सुंदर.

Anonymous said...

हमारी राय- 'सौ मित्र' राय जी, इस तरह बेबाक टिप्पणी करके तो आप 'सौ शत्रु' बना लोगे भाई.....

Anonymous said...

हमारी राय- 'सौ मित्र' राय जी, इस तरह BAKBASSSSSsssss टिप्पणी करके तो आप 'सौ शत्रु' बना लोगे.....

परमजीत बाली said...

बहुत बढिया!! सटीक।

tippanikaar said...

soomirta ji ki tippani bilkul sahi he ... cartoon se zada satik....
aur hari om aap accsept karna sikhiye ...anonymous ban k aapna bacho mat kijiye kyunki yaha faltu me tariff karne wale to bahut mil jayenge... kyun ki un ko bhi apne blog par tippaniyan chahiye aisi be baak tippani bahut kam log karte he jo wakaie me aapka cartoon dhiyaan se padte he ... aisi tippani se humesha kuch sikhne ko milta he.....

अनूप शुक्ल said...

सुन्दर! सौमित राय की टिप्पणी को प्रोत्साहन के रूप में लिया जाये।